Breaking

बुधवार, 23 सितंबर 2020

RJD Bakhtiyarpur के झूठ का बड़ा खुलासा ऑनलाइन वोट के नाम पर जनता को दिया धोखा

 

ऑनलाइन वोट
Online vote

एक कहावत तो आपने सुना ही होगा "सच्चाई छुप नही सकती बनावट के उसूलों से "कभी खुशबू नही आती कागज के फूलों से" बिहार विधानसभा चुनाव 2020 का अभी तक टिकट की घोषणा भी नहीं हुआ है, ऐसे में Bakhtiyarpur RJD कार्यकर्ताओं के झूठ का नया खुलासा सामने आया है। Bakhtiyarpur RJD कार्यकर्ताओं द्वारा बख्तियारपुर विधानसभा में ऑनलाइन वोट करने का एक लिंक फेसबुक और व्हाट्सएप के माध्यम से साझा किया गया जिसमें बख्तियारपुर विधानसभा से चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशीयों के नाम पर ऑनलाइन वोट करने की बात कही गई है। उस नाम मे विधायक रणविजय सिंह और पूर्व विधायक अनिरुद्ध यादव के नाम के अलावे और भी कई नाम सामिल है। 


खबर लिखें जाने तक उस ऑनलाइन वोटिंग में अनिरुद्ध यादव को 1970 वोट और रणविजय सिंह को मात्र 1081 वोट दिखाया गया है। इसके लिए राजद बख्तियारपुर ने अपने फेसबुक एकाउंट से बख्तियारपुर की जनता को धन्यवाद दिया है, आभार प्रकट किया है। आपको बताते चलें कि इस तरह की ऑनलाइन वोटिंग का लिंक बनाने वाला एडमिन के द्वारा जिस पार्टी को जितना वोट चाहे उतना दिया जा सकता है। और यह पूरा खेल मात्र एक ही मोबाइल से हो जाता है। मतलब साफ है कि बख्तियारपुर RJD कार्यकर्ताओं के द्वारा यह लिंक बनाया गया और अपनी ही पार्टी को एक ही मोबाइल से बार-बार वोट दिया गया। और जनता को यह दिखाने की कोशिश किया गया कि इस बार बख्तियारपुर में राजद को बीजेपी की तुलना में ज्यादा वोट मिलने बाला है।


तनिक सोचिए और याद कीजिये 90 दशक का वो शासन काल, पीढ़ी बदल गया है लेकिन सोंच अभी भी वही है। अभी तो चुनाव भी नही हुआ है। और उससे पहले राजद बख्तियारपुर द्वारा जनता के साथ इस तरह धोखाधड़ी किया जा रहा है। अब तय आपको करना है की बख्तियारपुर विधानसभा में आप किसे वोट करेंगें।

विडियो में देखिए ऑनलाइन वोट में किस तरह होता है फर्जी 

1 टिप्पणी:

thanks for visit