Breaking

रविवार, 24 मई 2020

बिहार में सभी को मिलेगा रोजगार CM नीतीश कुमार ने विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रवासियों से किया बात

मुख्यमंत्री नितीश कुमार विडियो कांफ्रेंसिंग
मुख्यमंत्री नितीश कुमार विडियो कांफ्रेंसिंग
बीते दिन शनिवार को मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान प्रवासी श्रमिकों से बातचीत के क्रम में कहा कि सरकार का संकल्प है कि सभी को बिहार में ही रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा । उन्होंने कहा कि हमारा दायित्व है कि सभी को रोजगार का अवसर मिले । अपना खुद का व्यवसाय करने वालों का सरकार हरसंभव मदद करेगी । प्रवासियों को उनके स्किल के अनुरुप यहीं पर स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया जाएगा । उन्होंने कहा कि हमारी चाहत है कि किसी को मजबूरी में बिहार से बाहर नहीं जाना पड़े । लोग बाहर जाकर कार्य कर रहे है , उन्हें वहां कष्ट झेलना पड़ता है । हमारी इच्छा है कि आप सबलोग बिहार में ही रहिए । आप सभी लोग बिहार के विकास में भागीदार बनें । उन्होंने कहा कि किसी को कष्ट न हो , सभी की सुरक्षा हमारा दायित्व है । हम हमेशा आप की ही चिंता करते हैं । मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि सर्वे का कार्य पूर्ण कराएं । कौन कहां से आया है , क्या रोजगार करता था ? उनको यहां कैसे रोजगार उपलब्ध कराया जाए ताकि उन्हें बाहर नहीं जाना पड़े ।



मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि सूक्ष्म एवं लघु उद्योग को बढ़ावा दें । बिहार में इसकी असीम संभावनायें हैं । मुजफ्फरपुर क्षेत्र में चमड़ा , जूता उद्योग तथा कपड़ा उद्योग की अपार संभावनायें हैं । इनसे संबंधित उद्योगों को बढ़ावा देने के लिये हरसंभव मदद की जाय । उन्होंने कहा कि विभिन्न उद्योगों के क्लस्टरों की पहचान सुनिश्चित की जाय ताकि उसके अनुरूप प्रवासी श्रमिकों को रोजगार के अवसर मिल सके । पटना के अभियंत्रण महाविद्यालय , बख्तियारपुर केंद्र पर भरौंच से आए श्री भोला ठाकुर ने बताया कि वहां फर्नीचर बनाने का काम करते थे । उन्होंने कहा कि यहां क्वारंटाइन सेंटर पर किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं है । मुख्यमंत्री ने कहा कि 14 दिन यहां रहने के बाद आप अपने घर जाएंगे , यह आपके स्वास्थ्य के लिए उपयोगी है ।



प्रवासी श्रमिक ने बताया कि वे बिहार में ही रहने का मन बना चुके हैं । औरंगाबाद के बी 0 एड 0 कॉलेज , महामाया बिगहा सेंटर पर दिल्ली से आयी श्रीमती देवंती कुंवर ने मुख्यमंत्री से बातचीत में बताया कि वे वहां सिलाई के साथ कढ़ाई का काम करती थीं । उन्होंने बताया कि यहां सभी प्रकार की सुविधाएं हैं । किसी प्रकार की कोई दिक्कत यहां नहीं हैं । वे अपने राज्य में ही रहना चाहती हैं , बाहर नहीं जाना चाहती हैं । लखीसराय के बालिका उच्च विद्यालय , हलसी केंद्र पर सूरत से आए श्री राजकुमार पांडेय ने मुख्यमंत्री को बताया कि वो कपड़े के मिल में काम करते थे , वे यहां 22 मई को आए हैं । अब उन्हें यहीं रहने की इच्छा है । उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि यहां उन्हें सारी सुविधाएं मिल रही है । शेखपुरा के घाटकुसुंबा ब्लॉक मॉडल सेंटर पर दिल्ली से आयी एक प्रवासी महिला ने बताया कि वे वहां 5-6 वर्षों से सब्जी की दुकान चलाती थीं लेकिन अब वे यहीं रहकर काम करना चाहती हैं । यहां अपने राज्य में आकर उन्हें खुशी हो रही है । मुख्यमंत्री को यहां बुलाने के लिए धन्यवाद भी दिया और कहा कि सेंटर पर सारी व्यवस्थाएं की गई हैं ।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

thanks for visit