Breaking

शुक्रवार, 14 फ़रवरी 2020

बिहार में बड़े अफसर पीते है शराब, अवैध तरीके से हो रही है बिक्री, मुख्यमंत्री ने लगाया आरोप

CM Nitish Kumar
पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने लगाया आरोप
इसमें कोई शक नही है कि बिहार में अवैध रूप से शराब की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है। रात ग्यारह बजे के बाद बड़े अफसर रोज शराब पीते है। सुबह उनकी जाँच कराई जाय तो अल्कोहल की मात्रा जरूर मिलेगा। शराब को यदि सही मात्रा में दवा के रूप में लिया जाय तो फायदेमंद होगा। शराब पीने बाले सिर्फ गरीब जनता ही जेल जाता है। शराब बंदी कानून सिर्फ गरीबों के लिए बनाया गया है। बड़े अफसर को तो शराब बंदी से कोई फर्क ही नही पड़ता है। उन्हें तो होम डिलेभरी घर पर ही शराब पहुँच जाता है। ये बातें बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने बीते दिन गुरुवार को संविधान बचाओ रैली में संबोधित करते हुए जनता से कहा। उन्होंने जनता से लुभावने वादा करते हुए कहा कि यदि हम सत्ता में आये या हमारी भागेदारी रही तो शराब बंदी कानून को खत्म कर देंगें।

आपको बताते चलें कि धमदाहा के खेल मैदान में संविधान बचाओ सभा का आयोजन किया गया था। मंच का संचालन जयप्रकाश पासवान कर रहे थे। जिसमें हजारों की संख्या में जनता हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी को सुनने आये थे। पूर्वमुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने CAA को साजिश बताते हुए केंद्र सरकार पर हमला बोला और कहा कि बाबा साहेब के द्वारा बनाये गए संविधान के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। केंद्र सरकार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के द्वारा बनाये गए संविधान को लाना चाहता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

thanks for visit