The w3-animate-fading class animates an element in and out (takes about 5 seconds).

Breaking

रविवार, 1 दिसंबर 2019

बख्तियारपुर विधायक रणविजय सिंह हाथ मे तलवार लेकर सामिल हुए...

बख्तियारपुर विधायक रणविजय सिंह हाथ मे तलवार लेकर सामिल हुए...
हाथ मे तलवार लिए हुए विधायक रणविजय सिंह
हाथ मे तलवार लिए हुए विधायक रणविजय सिंह
Baikatpur :- बख्तियारपुर विधायक रणविजय सिंह हाथ में तलवार लेकर जय श्री राम का नारा लगाते हुए राम जानकी विवाह महाउत्सव बैकटपुर में सामिल हुए। इस शुभ अवसर पर बैकटपुर में सीता राम विवाह शोभा यात्रा निकाली गई थी। जिसमे सामिल होते हुए विधायक रणविजय सिंह ने हाथ में तलवार लेकर जय श्री राम का नारा लगाया। और बैकटपुर से खुशरूपुर चौराहा तक शोभायात्रा में सामिल हुए। वही बैकटपुर में इसकी तैयारी पहले से ही कि गई थी। जिसमे 29 नवम्बर को रामचर्चा, 30 नवम्बर को धनुषयज्ञ और 01 दिसम्बर को सीता राम विवाह एवं शोभा यात्रा निकाली गई। सीता राम विवाह को लेकर तीन दिनों से हो रहे मंत्र उच्चारण से पूरा बैकटपुर नगरी भक्तिमय हो गया था।

धार्मिक गर्न्थो के अनुसार मार्गशीर्ष महीना के शुक्लपक्ष पंचमी को विवाह पँचमी के रूप में मनाया जाता है। जिसे हम आम बोल चाल की भाषा में सीता राम विवाह शादी सालगिरह भी कह सकते हैं। इसकी शुरुआत मिथिला से हुई थी। जहाँ के राजा जनक ने अपनी पुत्री जानकी के लिए योग्य वर की तलाश में स्वयम्वर का आयोजन किया था। उसी स्वयम्वर को देखने राम अपने गुरु के साथ वहाँ गए थे। स्वयम्वर में यह शर्त रखी गई थी कि जो भी धनुष को तोड़ेगा उसका विवाह जानकी के साथ होगा। जब बड़े बड़े योद्धाओं से धनुष उठा तक नही तो राजा जनक मायूस हो गए। तब अपने गुरु के आदेश पर श्रीराम ने धनुष को प्रणाम करके उठाया और एक ही झटके में तोड़ दिया। तभी से सीता राम विवाह उत्सव शादी के सालगिरह के रूप में हर साल मनाया जाता है।
सीता राम विवाह शोभा यात्रा
सीता राम विवाह शोभा यात्रा

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

thanks for visit