Breaking

सोमवार, 30 दिसंबर 2019

19 जनवरी को 16 हजार किलोमीटर से ज्यादा लम्बी मानव श्रृंखला बनाने का लक्ष्य...

समीक्षा बैठक करते हुये CM Nitish Kumar
समीक्षा बैठक करते हुये CM Nitish Kumar

पटना , 30 दिसम्बर 2019 : - मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में सम्राट अशोक कन्वेंशन केंद्र के ज्ञान भवन में पटना प्रमंडल स्तरीय समीक्षा बैठक के अंतर्गत पटना , नालंदा , भोजपुर , कैमूर , बक्सर एवं रोहतास जिले की जल - जीवन - हरियाली अभियान से संबंधित समीक्षा बैठक की गई । समीक्षा बैठक में सार्वजनिक कुंओं , चापाकल , आहर , पईन का जीर्णोद्धार , नलकूपों , कुओं एवं चापाकल के किनारे सोख्ता निर्माण , जल संरक्षण संरचना , छोटी - छोटी नदियों , नालों , पहाड़ी क्षेत्रों में चेकडैम एवं जल संचयन के अन्य संरचनाओं का निर्माण , नए जल स्रोतों का सृजन , सरकारी भवनों में छत वर्षा जल संचयन , पौधशाला सृजन एवं सघन वृक्षारोपण , जैविक खेती एवं टपकन सिंचाई , सौर ऊर्जा उपयोग को प्रोत्साहन एवं ऊर्जा की बचत , हर घर नल का जल , हर घर तक पक्की गली नालियाँ , राज्य में बचे सभी संपर्क विहीन बसावटों को पक्की सड़कों से जोड़ना , शौचालय निर्माण घर का सम्मान , बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम , लोक सेवाओं का अधिकार अधिनियम , ऊर्जा विभाग के अंतर्गत जर्जर तारों का बदलाव , पावर सब स्टेशन के निर्माण से संबंधित जानकारी दी गई । 

समीक्षा बैठक में जनप्रतिनिधियों ने अपने - अपने क्षेत्र की समस्याओं एवं शिकायतों को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा । संबंधित विभाग के अधिकारियों ने उसके संबंध में भी अपनी बातें रखीं । मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए । समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यावरण में हो रहे बदलाव को लेकर 13 जुलाई को सभी दलों के विधायकों एवं विधान पार्षदों की संयुक्त बैठक हुई थी , जिसमें जल - जीवन - हरियाली अभियान को मिशन मोड में चलाने का निर्णय लिया गया । आज जल - जीवन - हरियाली अभियान के अंतर्गत जो योजनाएं चलायी जा रही हैं , उस पर भी समीक्षा बैठक में चर्चा हुई । जनप्रतिनिधियों ने अपने - अपने अनुभव साझा किए , उसका भी जवाब अधिकारियों द्वारा दिया गया । कुछ लिखित रुप में भी बातें आयी हैं , जिसे संबद्ध विभागों को भेज दी जाएगी । 7 निश्चय के अंतर्गत चलायी जा रही योजनाओं के प्रगति के बारे में भी जानाकारी दी गई है । उन्होंने कहा कि जल - जीवन - हरियाली अभियान के अंतर्गत 11 अवयव हैं , इस पर तीन वर्षों में 24 हजार 524 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे । जरुरत के 11 अवयव हैं , इस पर तीन वर्षों में 24 हजार 524 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे । जरुरत के अनुसार और राशि में वृद्धि भी की जा सकती है ।

उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत राज्य स्तर पर परामर्शदात्री समिति और जिला स्तर पर जिला परामर्शदात्री समिति का गठन किया गया है । अपने - अपने इलाके में सभी जनप्रतिनिधि इसके लिए लोगों को जागरुक करें । पांच प्रमंडलों की समीक्षा बैठक की जा चुकी है । लोगों में जागृति लाने के लिए जल - जीवन - हरियाली अभियान यात्रा के अंतर्गत जागरुकता सम्मेलन कर रहे हैं । सार्वजनिक आहर , पईन , पोखरों का अतिक्रमणमुक्त कराना और उसका जीर्णोद्धार कराकर जल संचयन का काम किया जाएगा । उससे भूजल स्तर भी बनाए रखा जा सकेगा । उन्होंने कहा जलवायु परिवर्तन के कारण वर्षापात में कमी हो रही है । कभी सूखे की स्थिति तो कभी बाढ़ की स्थिति बन रही है । आपदा प्रभावित लोगों को तो हमलोग मदद कर ही रहे हैं लेकिन इन सभी चीजों से मुक्ति पाने के लिए जल - जीवन - हरियाली अभियान की महत्ता को समझना होगा । आने वाली पीढ़ी के लिए हम सबको मिलकर काम करना होगा । विकास के काम तो किए ही जा रहे हैं , किए जाते भी रहेंगे लेकिन क्लाइमेट चेंज पर हर पल काम करते रहना होगा । उन्होंने कहा कि हाल ही में दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति श्री बिल गेट्स पटना आए थे और उन्हें जलवायु परिवर्तन के लिए किए जा रहे कामों के बारे में जानकारी दी गई थी । यहां से जाने के बाद उन्होंने बिहार में क्लाइमेट चेंज पर किए जा रहे कामों की तारीफ भी की थी । 


मुख्यमंत्री ने कहा कि 19 जनवरी 2020 को दिन के 11 . 30 बजे से 12 बजे तक पुरुष , महिला , युवा सभी को मानव श्रृंखला में शामिल होने के लिए आप सब प्रेरित करें । 16 हजार किलोमीटर से ज्यादा लंबी मानव श्रृंखला बनाने का लक्ष्य रखा गया है , आप सब इसमें जरुर शामिल हों । बैठक में उप मुख्यमंत्री श्री सुशील कुमार मोदी , कृषि मंत्री श्री प्रेम कुमार , पथ निर्माण मंत्री श्री नंदकिशोर यादव , ग्रामीण कार्य मंत्री श्री शैलेश कुमार , ग्रामीण विकास मंत्री श्री श्रवण कुमार , परिवहन मंत्री श्री संतोष कुमार निराला , पर्यटन मंत्री श्री कृष्ण कुमार ऋषि , उद्योग मंत्री श्री श्याम रजक , सूचना एवं जन - संपर्क मंत्री श्री नीरज कुमार , पटना प्रमण्डल के सांसदगण , विधायकगण , विधान पार्षदगण अन्य जनप्रतिनिधिगण , मुख्य सचिव श्री दीपक कुमार , पुलिस महानिदेशक श्री गुप्तेश्वर पाण्डेय , विकास आयुक्त श्री अरुण कुमार सिंह , अन्य विभागों के अपर मुख्य सचिव / प्रधान सचिव / सचिव , मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री चंचल कुमार , योजना एवं विकास विभाग के सचिव श्री मनीष कुमार वर्मा , पटना प्रमंडल के आयुक्त श्री संजय कुमार अग्रवाल , मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी श्री गोपाल सिंह , प्रबंध निदेशक बुडको श्री चंद्रशेखर सिंह सहित पटना , नालंदा , भोजपुर , कैमूर , बक्सर एवं रोहतास जिले के जिलाधिकारी , पुलिस अधीक्षक सहित अन्य वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे ।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

thanks for visit