The w3-animate-fading class animates an element in and out (takes about 5 seconds).

Breaking

शनिवार, 2 नवंबर 2019

इस गाँव के लोगों ने अनोखे तरीके से मनाया छठ पर्व का त्योहार...

छठ पर्व फल वितरण
छठ पर्व फल वितरण
Bakhtiyarpur:- आस्था का महापर्व छठ पूजा के तीसरे दिन पहली अर्घ को बख्तियारपुर प्रखंड के डोमा गाँव के युवाओं ने अनोखे अंदाज में मनाया छठ पर्व का त्योहार। इस गाँव में पिछले कई बर्षों से छठ पर्व के तीसरे दिन पहली अर्घ को गंगा नदी के घाट पर दौरा (बहँगी) लेकर जाने वाले सभी श्रद्घालुओं में फल वितरण किया जाता है। एवं छठ पूजा के चौथे और आखरी दिन सुबह में अर्घ देकर लौट रहे श्रद्धालुओं को मुफ्त में गरमा गरम चाय पिलाया जाता है। जिससे श्रद्धालुओं को ठंड से काफी राहत मिलता है। और वे मजे लेकर चाय का आनंद लेते हैं। वही छठ पर्व में नए जमाने के युवाओं में आस्था के प्रति इस तरह के भाव को देखकर आप समझ सकते है कि छठ पर्व आज के युवाओं के लिए कितना महत्व रखता है।


छठ पर्व महज एक त्योहार ही नही बल्कि यह एक दूसरे के प्रति एकता और सदभावना का संदेश भी देता है। इस पर्व में अपनों के साथ साथ दूसरों की सहूलियत का ख्याल रखा जाता है। गंगा नदी घाट तक जाने बाले रास्ते को साफ सुथरा किया जाता है। साथ ही स्वच्छता का भी ख्याल रखा जाता है। लोग अपने घरों में हर चीज को साफ सफाई करके अमनिया से रखते हैं। साथ ही छठ पूजा महज एक त्योहार ही नही बल्कि अपनो से मिलने का एक बहाना भी है जो महीनों तक काम काज के सिलसिले दूर रहते हैं।


श्री छठ पूजा समिति डोमा के कार्यकर्ता हेमन्त किशोर इस बारे में बताते हैं कि वो छठ पर्व में इस तरह के आयोजन कई वर्षों से करते आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह आयोजन किसी पार्टी या नेता के द्वारा नही किया जाता है बल्कि वो आपस में ही कुछ सदस्यों के सहयोग से यह सब करते हैं। उनका व्हाट्सएप पर "आदर्श ग्राम डोमा" नाम से एक ग्रुप है। जिसमें उन्होंने गाँव के कुछ सभ्य लोगों को ग्रुप का सदस्य बनाया है। जिनके सहयोग से इस तरह का आयोजन किया जाता है। उन्होंने ग्रुप के सदस्यों को धन्यवाद देकर आभार व्यक्त किया। वही इस मौके पर श्री छठ पूजा समिति डोमा के कई सदस्य मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

thanks for visit