Breaking

बुधवार, 9 अक्तूबर 2019

अब जिओ से दूसरे नेटवर्क पर नही होगा फ्री कॉल, देने पड़ेंगे 6 पैसे प्रति मिनट...

Jio phone & sim
जिओ फोन और सिम
आपको यह जानकर हैरानी होगा कि अब जिओ से दूसरे नेटवर्क पर मुफ्त कॉल नही होगा। इसके लिए आपको मौजूदा अनलिमिटेड प्लान के अलाबे अतिरिक्त टॉपअप प्लान जैसे 10, 20, 50, 100 इत्यादि का रिचार्ज करवाना होगा।

यह रिचार्ज प्लान तभी काम करेगा जब आपके जिओ नम्बर पर कोई अनलिमिटेड प्लान जैसे 98, 149, 399 इत्यादि एक्टिवेट रहेगा।

यह नियम आज 10 अक्टूबर से लागू किया गया है। इस नियम के चपेट में ऐसे जिओ उपभोक्ता आयेंगे जिनका अनलिमिटेड प्लान 10 अक्टूबर से पहले खत्म हो गया है। और वह अनलिमिटेड प्लान रिचार्ज करवाने वाले हैं। ऐसे में उन्हें अनलिमिटेड प्लान के साथ टॉपअप प्लान भी रिचार्ज करवाना होगा। तभी उनके जिओ नम्बर से दूसरे अदर नम्बर पर कॉल लगेगा। जिन उपभोक्ताओं का अनलिमिटेड प्लान अभी जारी है उन्हें टॉपअप रिचार्ज करवाने की जरूरत नही है। उन्हें आने वाले रिचार्ज में ये सब करवाना पड़ेगा। वही जिओ से जिओ पहले की तरह मुफ्त कॉल की सुविधा उपलब्ध रहेगा।

10 रुपये के रिचार्ज में कस्टमर को 124 मिनट अदर नेटवर्क पर बात करने के लिए दिया जाएगा। साथ ही इसमें 1 GB मुफ्त डेटा भी दिया जाएगा।

20 रुपये के रिचार्ज में कस्टमर को 249 मिनट अदर नेटवर्क पर बात करने के लिए दिया जाएगा। साथ ही इसमें 2 GB मुफ्त डेटा भी दिया जाएगा।

50 रुपये के रिचार्ज में कस्टमर को 656 मिनट अदर नेटवर्क पर बात करने के लिए दिया जाएगा। साथ ही इसमें 5 GB मुफ्त डेटा भी दिया जाएगा।

100 रुपये के रिचार्ज में कस्टमर को 1362 मिनट अदर नेटवर्क पर बात करने के लिए दिया जाएगा। साथ ही इसमें 10 GB मुफ्त डेटा भी दिया जाएगा।

जिओ ने यह चार्ज IUC के नाम पर लगाया है। जिसका जिम्मेदार उसने ट्राई को बताया है। छोटे शब्दो मे ट्राई को यदि समझे तो यह एक जज की तरह काम करता है। जो टेलीकॉम कंपनियों पर नजर रखता है। ताकि टेलीकॉम कंपनियां अपनी मनमानी न कर सके। जब हम जिओ से किसी दूसरे नेटवर्क जैसे एयरटेल, आईडिया वोडा पर कॉल करते है तो जिओ 6 पैसे प्रति मिनट उस कंपनी को देता है जिसपर हम कॉल कर रहे है। यही नियम सभी कंपनियों पर लागू होता है। जब हम एयरटेल से जिओ पर कॉल करते है तो एयरटेल जिओ को 6 पैसे प्रति मिनट देता है। लेकिन जिओ के पास अभी ज्यादा उपभोक्ता है इसलिए जिओ को IUC चार्ज ज्यादा लग रहा है। जिओ ने IUC चार्ज के रूप में दूसरे कंपनी को 13,500 करोड़ रू दिया है। इसलिए उसने यह फैसला लिया है कि यह चार्ज वह उपभोक्ता से बसूलेगा। IUC चार्ज जिओ के आने से पहले ही लागू था। जो 14 पैसे प्रति मिनट था। जिसे ट्राई ने 2017 में घटाकर 6 पैसे प्रति मिनट कर दिया था। लेकिन जिओ उपभोक्ता बनाने के चक्कर में यह IUC चार्ज खुद भरता रहा और आपको मुफ्त में सबकुछ देता रहा। ट्राई ने कहा था कि IUC चार्ज को जनवरी 2020 में पूरी तरह से खत्म कर दिया जाएगा। इसके लिए उसने सभी कंपनियों से पूछताछ किया है। लेकिन उससे पहले ही जिओ ने IUC चार्ज लगाकर उपभोक्ता के जेब से पैसे निकाला शुरू कर दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

thanks for visit