The w3-animate-fading class animates an element in and out (takes about 5 seconds).

Breaking

शनिवार, 3 अगस्त 2019

नियोजित शिक्षकों ने मांगा वेतन तो मिला डंडा लेकिन विधायकों को मिलेगा दो दो कट्ठा जमीन बंगला बनाने के लिए पटना के VIP इलाका में...


नियोजित शिक्षकों ने मांगा वेतन तो मिला डंडा लेकिन विधायकों को मिलेगा दो दो कट्ठा जमीन बंगला बनाने के लिए पटना के VIP इलाका में...

हाल ही में कुछ दिन पहले जब नियोजित शिक्षकों ने "समान काम समान वेतन" के आधार पर वेतन मांगा और प्रदर्शन करते हुए विधानसभा का घेराव करने पहुँचे तो उनके ऊपर लाठी डंडे बरसाए गए। उन्हें घायल कर अपमानित किया गया। प्रदर्शन कर रहे नियोजित शिक्षकों पर वाटर कैनन का इस्तेमाल किया गया। आसू गैस के गोले छोड़े गए। मंजर ऐसा था कि मानो वे शिक्षक नही अपराधी हों। इस घटना पर पूर्व CM जीतन राम मांझी ने दुःख जताया और उन्होंने कहा कि हम शिक्षकों की बात को विधानसभा में उठायेंगे। कुल मिलाकर ऐसा लग रहा था जैसे नीतीश कुमार का खजाना खाली हो चुका है। "समान काम समान वेतन" के आधार पर वो वेतन नही दे पायेंगे। लेकिन अब विधायकों के लिए उनका खजाना भर गया है।

आने बाला विधानसभा चुनाव को देखते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधायकों को खुश करने के लिए नया दांव खेला है। उन्होने पटना के आशियाना नगर दीघा रोड में सभी विधायकों के लिए दो दो कट्ठा जमीन देने की योजना बनाई है। हालांकि इस पर अभी तक कोई कागजी कारवाई नही हुआ हैं। सिर्फ विचार किया जा रहा है। साथ ही आपको बता दें कि बिहार विधानसभा में 243 सदस्य है और 75 विधान परिषद के मेम्बर है। जिसमे संसदीय कार्य मंत्री को सोसायटी का अध्यक्ष बनाया गया है। इस बारे में जब उनसे सवाल पूछा गया तब उन्होंने बात को घुमाते हुए जवाब दिया कि यह फैसला नीतीश कुमार का नही है बल्कि यह ऑपरेटिव सोसायटी का सुझाव विधायकों ने मुख्यमंत्री को दिया था। अब बात चाहे जो भी हो चाकू गिरे तरबूज पर या तरबूज गिरे चाकू पर कटना तो तरबूज को ही है। आगे देखते है आने बाले चुनाव में जनता क्या करती है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

thanks for visit