Breaking

मंगलवार, 30 जुलाई 2019

मुस्लिम महिलाये PM मोदी को क्यों दे रही है दुआएं...


मुस्लिम महिलाये PM मोदी को क्यों दे रही है दुआएं...

खुशी इतनी की जिसे बयान नही कर सकती हूँ। भारत तो 1947 में आजाद हुआ था, लेकिन मुझे लग रहा है कि मैं अभी अभी आजाद हुई हूँ। जिसके बारे में सोच कर भी डर लगता था। आज वो राज्य सभा मे भी पास हो गया है। पाकिस्तान, बंगलादेश, श्रीलंका, इराक, सीरिया, मलेशिया, इंडोनेशिया इत्यादि देशों में तो ये पहले से ही बैन था। तो फिर हिन्दुस्तान में क्यों नही। शायद यह किसी और के सरकार में मुमकिन नही था। लेकिन मोदी है तो कुछ भी मुमकिन है।

जी हाँ सही पहचाना आपने मैं बात कर रही हूँ  ट्रिपल तलाक के बारे में। तीन तलाक बिल आज राज्यसभा में पास हो गया है बस अब राष्ट्पति का मुहर लगना बाकी है। तीन तलाक बिल के पक्ष में 99 वोट मिला और विरोध में 84 वोट मिला इस तरह 15 वोटों से तीन तलाक बिल को राज्यसभा में मंजूरी मिल गया। मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव में जो मुस्लिम महिलाओं से वादा किये थे वो उन्होंने पूरा कर दिया। अब हम सब मुस्लिम महिलाये अपना फर्ज निभायेंगे।

ऐसे ही नही पास हुआ तीन तलाक बिल राज्यसभा में। इसके लिये कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। इसके लिए करीब चार घंटे तक राज्य सभा मे बहस हुई। विरोधियों की मांग और चर्चा पूरी होने के बाद राष्ट्पति ने इसे स्लेटर कमिटी के पास वोटिंग के लिए भेजा। जिसमे 15 वोटों से जीत हासिल हुआ। और राज्यसभा में पास हो गया। तीन तलाक बिल में यह प्रावधान किया गया है कि अगर कोई शौहर अपनी बेगम को किसी रूप से तलाक देता है मौखिक लिखित या किसी अन्य तरह से तो उसका तलाक अवैध माना जायेगा। साथ ही उस पीड़ित महिला को उसके शौहर द्वारा अपने और अपने संतानों की भरण पोषण के लिए खर्चा देना होगा। जिसके रकम मजिस्ट्रेट तय करेगा।

2 टिप्‍पणियां:

thanks for visit